सुविचार

जेपी-डायरी में आपका स्वागत है । अपना मूल्यवान समय निकालकर आने हेतु आभार । अपनी प्रतिक्रिया देना न भूलें ।

जेपी हंस

मेरी फ़ोटो
मूल रूप से बिहार राज्य के अरवल जिला के निवासी । मां भारती का सच्चा सपूत। स्वतंत्र लेखक। पूर्वी दिल्ली से प्रकाशित पूर्वालोक, आयकर विभाग राँची से प्रकाशित आयकर जोहार, आयकर विभाग, पटना से प्रकाशित आयकर विहार, ऑनलाईन वेब पत्रिका पुष्पवाटिक टाईम्स, ब्लॉग-बुलेटिन, अनुभव एवं विभिन्न पत्रिकाओं में प्रकाशित रचनाऐ. ई-मेल आई.डी- jphans25@gmail.com

5 जनवरी 2016

पठानकोट कैम्प पर हमले के विरोध में देशभक्ति गीत

5 टिप्‍पणियां:

  1. आपकी इस पोस्ट को आज की बुलेटिन पठानकोट और मालदा जैसा अब स्वीकार नहीं - ब्लॉग बुलेटिन में शामिल किया गया है.... आपके सादर संज्ञान की प्रतीक्षा रहेगी..... आभार...

    जवाब देंहटाएं
  2. शिवजी सा नीलकंठ मैं हूँ
    वक्त पड़े तो उठा लूँगा संसार!
    बहुत अच्छी लगी कविता आपकी आदरणीय जे पी हंस जी!

    जवाब देंहटाएं
  3. आप सभी का हार्दिक आभार...

    जवाब देंहटाएं

अपना कीमती प्रतिक्रिया देकर हमें हौसला बढ़ाये।