पठानकोट कैम्प पर हमले के विरोध में देशभक्ति गीत

5 टिप्‍पणियां:

  1. आपकी इस पोस्ट को आज की बुलेटिन पठानकोट और मालदा जैसा अब स्वीकार नहीं - ब्लॉग बुलेटिन में शामिल किया गया है.... आपके सादर संज्ञान की प्रतीक्षा रहेगी..... आभार...

    जवाब देंहटाएं
  2. शिवजी सा नीलकंठ मैं हूँ
    वक्त पड़े तो उठा लूँगा संसार!
    बहुत अच्छी लगी कविता आपकी आदरणीय जे पी हंस जी!

    जवाब देंहटाएं
  3. आप सभी का हार्दिक आभार...

    जवाब देंहटाएं

अपना कीमती प्रतिक्रिया देकर हमें हौसला बढ़ाये।

Blogger द्वारा संचालित.