पठानकोट कैम्प पर हमले के विरोध में देशभक्ति गीत

5 comments:

  1. आपकी इस पोस्ट को आज की बुलेटिन पठानकोट और मालदा जैसा अब स्वीकार नहीं - ब्लॉग बुलेटिन में शामिल किया गया है.... आपके सादर संज्ञान की प्रतीक्षा रहेगी..... आभार...

    ReplyDelete
  2. शिवजी सा नीलकंठ मैं हूँ
    वक्त पड़े तो उठा लूँगा संसार!
    बहुत अच्छी लगी कविता आपकी आदरणीय जे पी हंस जी!

    ReplyDelete
  3. आप सभी का हार्दिक आभार...

    ReplyDelete

अपना कीमती प्रतिक्रिया देकर हमें हौसला बढ़ाये।

Powered by Blogger.