06 June, 2021

हादसा












हादसे होते थे
और होते रहेंगे
जब तक
सड़कों पर गड्ढे रहेंगे।

जब तक लोग
सड़क नियमों का
पालन नहीं करेंगे।

सड़कों पर हादसे होते थे।
और होते ही रहेंगे।

जब तक गाड़ियां
ट्रैफिक नियमों का
पालन नहीं करेंगी।

हादसे होते थे
और होते ही रहेंगे।

समाज में भी हादसे होते थे
और होते रहेंगे

जब तक लोगों में
गैर-बराबरी,
असमानता,
छुआछूत,
भेदभाव जैसे
गढ्ढे बने रहेंगे।

समाज में भी हादसे
होते रहेंगे।

अमीरी-गरीबी
और 
उच्च-नीच की दीवार
लोगों के बीच
खड़े रहेंगे।

समाज में भी 
हादसे होते रहेंगे।

सवैधानिक नियमों
का पालन लोग
नहीं करेंगे।

तब तक
समाज में भी
हादसे होते थे
और होते रहेंगे।

हादसा कोई भी हो
चाहे सड़क पर हो
या समाज में ।

हर बार पीड़ित
इंसान होता है।

हर बार पीड़ित
इंसान होता है।

             ©जेपी हंस

[जेपी डायरी एक स्वतंत्र ब्लॉग है, इसे नियमित पढ़ने के लिए सब्सक्राईब करें. प्रकाशित ब्लॉग पर आपकी प्रतिक्रिया अपेक्षित है. जेपी डायरी से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, फेसबुक पेज, ट्विटर पर फॉलो करे…]